Thursday 8 March 2012

एक चेहरा दिखता है मेरे आईने में अक्सर
रूबरू नहीं होता लेकिन मुलाक़ात रोज़ होती है

No comments:

Post a Comment