Tuesday, 23 September, 2008

मुझे आजाद कर दो...


न इजहार तू कर
न इकरार तू कर
मैं एक आजाद पखेरू हूँ
मुझे आजाद तू कर
मेरी खुशबू, तेरी नहीं
मेरी आरजू, तेरी नहीं
मैं एक हवा का झोंका हूँ
मैं बहूँ, आगाज़ तू कर

No comments:

Post a Comment