Friday, 21 March, 2014

तुम्हारी आँखों का प्यार देख मुझे तमसे और भी प्यार हो जाता है
कभी मरने का दिल करता है कभी जीना बहुत दुशवार हो जाता है 

No comments:

Post a Comment