Friday 21 March 2014

मेरी परवाज़ का अंदाज़ तुम यूँ भी लगा सकते हो
के फलक से सिर्फ एक उसका घर दिखाई देता है

No comments:

Post a Comment