Monday 11 June 2012


कसम भी खाई हैं, वादा भी किया हैं
तेरे साथ जीने के इरादा भी किया हैं
जिससे जिंदगी का मुकाम हासिल हुआ है
उससे इक्तेज़ा हक से ज्यादा ही किया है ...

दिल का हाल कांच पर लिख कर दे दिया
अब चाहे वो संभाले या फानूस बना ले
वो समझ सके तो खुदा खैर करे
गरचे इकरार हमने कुछ सादा ही किया है ...

इक्तेज़ा - demand, फानूस - lamp of glass, गरचे - even though, सादा - plain, simple

No comments:

Post a Comment