Thursday 14 June 2012


वोह गालिबन खुद को खुदा समझ कर इतराते रहे
हम आदतन उनके सजदे में सर झुकाते रहे
संग का सीना रखने वाले संग न रहे सके
और हम खुद को काफिर से मुसलमां बनाते रहे ...

ghaaliban - often, sang - marble, kaafir - non- believer, muslamaan - one who worships

No comments:

Post a Comment