Wednesday 27 August 2008

सूना ....

सूने दिन और सर्द रातें,
सर्द रातें और पुरानी बातें,
पुरानी बातें और मेरी तन्हाई
मेरी तन्हाई और तुमसे जुदाई,
तेरी जुदाई और तेरी कमी,
तेरी कमी और आँखों की नमी,
आँखों की नमी और रोता दिल,
रोता दिल करे जीना मुश्किल,
सच, जीना मुश्किल हुआ तेरे बिन,
तेरे बिन मेरी सर्द रातें और सूने दिन!!!!

No comments:

Post a Comment