Thursday 28 August 2008

जन्मदिन मुबारक

मेरी दुआओं का काफिला निकल पड़ा तेरी रहगुज़र को
शादमानी बिखेरता हुआ, रफ्ता रफ्ता राहों में तेरी
खुदा आपको ज़माने भर की इनायतें बख्शे ता-उम्र
बस इतनी सी गुजारिश है उस परवरदिगार से मेरी

No comments:

Post a Comment